दक्षिणावर्ती शंख और उसके उपयोग 5,8 English SUBSCRIPTION Kundli Tv- इस नाम के लोगों पर भगवान गणेश हमेशा रहते हैं प्रसन्न ‘‘होनहार बिरवान के होत चिकने पात’’ अर्थात देश काल व परिस्थितियों से जन्म लेते हैं- जनप्रिय राजनीतिज्…और पढ़ें
સુરક્ષા सुरक्षा DEFENCE मेष राशि के जातकों में जन्म से नेतृत्व के गुण होते हैं |राशिचक्र की आरंभिक राशि होने के कारण ये उत्तरोतर ही जाना चाहते हैं | हारना ये बर्दाश्त नहीं कर सकते अत: ये अधिकतर सफ़लता ही हासिल करते हैं |इनका यह गुण जीवन के हर क्षेत्र में नजर आता हैं | यदि आपकी टीम में मेष राशि के जातक हो तो यह आपके लिए फ़ायदेमंद हैं | जब इनके जीवन वृत्ति की बात आती हैं ये बेहतरीन कैरियर पाने के लिए अपना सारा कौशल लगा देते हैं |
शरीर के इस अंग पर आज ही बांधे काला धागा और फिर देखे चमत्कार ! 😮 Moon Pooja, Chandra Puja Kundli Tv- सावन स्पेशल: बुधवार को किया ये काम बनाएगा आपको लखपति
Dear Ashutosh, शुभांक = (मूलांक +भाग्यांक + नामांक + स्तूपांक) Nitish Kumar says jyostish
फेसबुक 31 आदित्य ह्दय स्त्रोत का पाठ करें… सूची
ज्योतिष पत्रिका एकान्त शर्मा 1939 Birth date:10/07/1990 पिशाच योग DAS Application form
मुख्य › स्वयं › ज्योतिष चार्ट कैसे प्रकट होते हैं कौन सा राशि चिन्ह कुल मनोचिकित्सा हैं व्यूस : 10282
कैंसर हृदय की भावनाओं, पोषण और निकट संबंधों से जुड़ा होता है। इसके विपरीत, मकर, भौतिक दुनिया में स्वयं-अनुशासन और सफलता पर केंद्रित है। इन दो संकेतों की ऊर्जा को अवरुद्ध करना मुश्किल है: जब कोई अपनी भावनाओं को नहीं मिल सकता है, दूसरों के साथ निकटता महसूस कर सकता है, या अपने समुदाय में अपनी निजी जिम्मेदारियों को स्वीकार कर सकता है, तो वे स्वार्थी और आवेगी क्यों नहीं हो?
Navagraha Mantras अग्नि राशि sahi faladesh ke liye sahi janm details ki jarurat padti hai, sahi samay nahi hai to uttar nahi diaya jaa sakta.
2. शनि, मंगल, राहु एवं केतु की युति छठे, आठवे या बारहवें भाव में हो तो कैंसर होने की संभावना होती है। DOB- 8/3/1989 किसी भी घटना को जानने के लिए इस पद्वति में एक ही नियम है और वह यह कि घटना से संबंधित प्रमुख भाव का उप नक्षत्र स्वामी यदि प्र्रमुख भाव या घटना के लिए सहायक भाव का कारक बन जाये तो अपेक्षित घटना होगी। घटना के समय निर्धारण के लिए विंशोत्तरी महादशा को ही देखा जाता है। आशय यह है कि गुरुजी केपी जी ने अपनी पद्वति के आधार में महर्षि पाराशर को कहीं भी अनदेखा नहीं किया है। इसलिए मेरे गुरुजी श्री रवींद्र नाथ जी चतुर्वेदी कहते भी हैं कि गुरुजी केएसके जी ने वैदिक ज्योतिष को ही परिमार्जित किया है।
आज का राशिफल : 5 अगस्त 2018, 7 राशि वालों की किस्मत रहेगी मेहरबान? astrological remeddies कामाख्या तंत्र सिलेब्रेटी ज्योतिषी
शिव महा पुराण – धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष रूपी चारों पुरुषार्थों को देने वाला E-Paper Mai upsc civil service ki tyaari kar rahi ho kya iss saal Koi chances hai aor iss saal nahi toh aage hai kya
July 26, 2017 at 6:29 am Ranjan singh says 8/8इन बातों को भी जानना जरूरी
ME Case Studies ratan Trending 10 पीठ का लगातार स्फुरण आगामी समय में किसी संकट की सूचना देता है। चौघडिया
श्री ब्रह्मा यंत्र रत्‍न Email or Phone Password Health News in Hindi के लिए देखें Times Now Hindi का हेल्‍थ सेक्‍शन। देश और दुन‍िया की सभी खबरों की ताजा अपडेट के ल‍िए जुड़िए हमारे FACEBOOK पेज से।
4/ 10 Jump to navigationJump to search 54 app_ban_show_home_top_ban_2(); //_gaq.push([‘_trackEvent’, ‘mpanchang_ios_app_ban’, ‘app_ban_show’, ‘home_top_ban_2’, 0, true]);
जड़ों के इन चमत्कारी गुणों को नहीं जानते होंगे आप, बदल सकती है किस्मत
व्यूस : 2119 क्षुद्रग्रह बेल्ट के दूसरी तरफ के ग्रहों को बाहरी ग्रहों के रूप में जाना जाता है। ये दिव्य निकायों – बृहस्पति, शनि, यूरेनस, नेप्च्यून और प्लूटो – धीरे-धीरे आगे बढ़ते हैं, हर एक से तीस साल में संकेत बदलते हैं। बाहरी ग्रह बड़े जीवन विषयों को परिभाषित करते हैं, साथ ही साथ पीढ़ियों द्वारा साझा अनुभव भी परिभाषित करते हैं।
तांत्रिक विधि से बना है श्री महामाया देवी का चमत्कारिक मंदिर, सदियों से है आस्था का केंद्र यह फिल्म सन्‌ 1973 में बनी थी अर्थात 1+9+7+3 =20 = 2+0 = 2। इसका मूलांक 2 आ रहा है- जो अमितजी का मूलांक और भाग्यांक नम्बर है।
ऐसे सीखें कुंडली देखना मैरी का ब्लॉग जिम्मेदारी में वृद्धि…
कर्क राशि का विवरण पितृ दोष के अशुभ फल 01 इनके अलावा निम्न बिन्दु भी कैसर रोग की पह्चान के लिये मेरे अनुभव सिद्ध है विद्या प्राप्ति हेतु प्रार्थना
July 5, 2018 at 6:41 am var nameEQ = name + “=”; Free Horoscope API
Education of biotechnology: astrological aspects 27 Mar 2018 भाव नाश योग Knowledge DVD’s Astrology Lessons पिशाच योग महाशिवरात्रि
Blog Archive हथेली में एक शुक्र रेखा होती है। इसे गर्डल रेखा भी कहते हैं। यह रेखा व्यक्ति को अति संवेदनशील और उग्र बनाती है। जिन व्यक्तियों में गर्डल या शुक्र रेखा पाई जाती है वह व्यक्ति की दोहरी मानसिकता को दर्शाता है।
पठानकोट Science Miracle Google+ sir mujhe apne career ke bare me puchna hai mai govt job me Jana chahta hu kripya bataein Asia koi yog hai ya nahi ya kis kshetra ka yog hai
Cancer Horoscope 2018 विवाह संस्कार का प्रथम उल्लेख ऋग्वेद में सूर्य और सोम विवाह के रूप में मिलता है। विवाह से परिवार बन…और पढ़ें
कुंडली मिलान तथा अशुभ ग्रह Muje nokri yog he ya buisness or konsa please muje btaye शनि को कभी-कभी एक नरक कहा जाता है ग्रह: इसकी ऊर्जा पारंपरिक रूप से ऋणात्मक मानी जाती थी। मुझे ऐसा लगता नहीं है कि यह उचित है। शनि हमें पर सीमाएं रखता है, सच है, लेकिन यह दृढ़ता और सफल होने के दृढ़ संकल्प को भी स्थापित करता है। इसके साथ कुछ भी गलत नहीं है।
कुकी धार्मिक कथाएं सपने में नोट देखना एक बहुत ही शुभ संकेत माना जाता है. ज्योतिषों के अनुसार ऐसा सपना धन लाभ की ओर संकेत करता है. सपने में कागज के नोट देखना आने वाले समय में बिना मेहनत किए कहीं से धन प्राप्ति की तरफ संकेत देता है.
Omen or Sanket ओमेन या संकेत 4 नामांक वाले किसी से आसानी से दोस्ती नहीं करते, अगर करते हैं तो ईमानदारी से निभाते हैं।
$(self).html(‘Loading’); बृहस्पति का मोटापे से क्या संबंध है?
2017 12 साल बाद बना सिंहस्थ पुष्य का संयोग, इन कामों के लिए है शुभ
May 6, 2018 at 2:49 am Email ThisBlogThis!Share to TwitterShare to FacebookShare to Pinterest June 1, 2018 at 7:49 pm
यंत्रों की कार्यप्रणाली विकास की नई राह गढ़ रहीं हैं पूनम 6 अगस्त 2018: देश-दुनिया की सारी खबरें जानिए सुबह 11 बजे निकालें
VIDEO : दीपिका के सामने रणवीर सिंह ने टेबल पर चढ़कर किया डांस, देखते रह गए लोग NBT Religion मूलांक 5 :- इस अंक का स्वामी बुध है। शुभ तिथि 5, 14 एवं 23 है। सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार श्रेष्ठ है। उसमें शुक्रवार सर्वाधिक शुभ है। सफेद, खाकी एवं हल्का हरा रंग इनके लिए शुभ है। इनके लिए अशुभ अंक 2, 6 और 9 है।
शनिवार को शनि और हनुमानजी का दिन माना जाता है इसीलिए इस दिन इनकी पूजा का विशेष महत्व है। ज्योतिष के अनुसार शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनिवार श्रेष्ठ दिन है। इस दिन किए गए उपायों से शनि के दोष शांत हो सकते हैं। मान्यता है कि इस दिन हनुमानजी की पूजा करने से शनि के अशुभ फलों से मुक्ति मिलती है। इसी वजह से कई लोग शनिवार को हनुमानजी की पूजा करते है।
सक्रान्ति की सूची तिथि, समय व पूजा विधि के साथ उपलब्ध है। if (window.navigator.userAgent.indexOf(“Mac”) != -1) OSName = “Mac”;
मेष राशि – UP Board Results 2018 1 अगस्त राशिफल शनि ग्रह 1.3M
Place mahmudabad (u.p) भारत के सर्वश्रेष्ठ ज्योतिषाचार्य सूर्य       10 डिग्री मेष      10 डिग्री तुला
Whats A Zodiac Sign | Zodiac Express Whats A Zodiac Sign | Zodiac Usernames Whats A Zodiac Sign | All Zodiac Signs And Meanings

Legal | Sitemap

Write a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.