ग्रह और संक्रमण तारीख को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 9- March 2017 Members जुलाई 2010 Copyright © 2018, Heraldspot. यहां पर संक्षिप्त में यह समझ लेना है कि जिसका जो अंक अर्थात मूलांक, भाग्यांक या नामांक है यदि उसके जीवन साथी या प्रेम पात्र का अंक उसके अतिमित्र के कालम वाला है तो उनका दाम्पत्य जीवन बहुत अच्छा रहेगा। यदि मित्र अंक वाला होगा तो दाम्पत्य जीवन अच्छा रहेगा। यदि सम अंक वाला होगा तो दाम्पत्य जीवन सामान्य रहेगा अर्थात कुछ विसंगतियां रह सकती हैं लेकिन निर्वाह होता रहेगा। जबकि अंको में आपसी शत्रुता होने पर दाम्पत्य जीवन कष्टकारी रह सकता है।
बारिश के मौसम में होने वाली बीमारियों और उनसे बचाव के उपाय मलेरिया रोग होने पर खून की जांच अवश्य करवायें Trending News
ज्योतिष अनुसन्धान केन्द्र – प्रतापगढ़ (उ.प्र.) भारत Sunil Sharma वर्ष 2018 के लिए कुंडली के अवसरों और बाधा यह है कि आप वर्ष के पाठ्यक्रम के माध्यम से चेहरे की संभावना है के साथ प्रस्तुत करते हैं। अपने जीवन पर ग्रहों के प्रभाव सर्वोपरि महत्व का है और हमारे अटकल तकनीक में उच्च शक्ति में आयोजित किया जाता है। कुंडली में ग्रहों की अवधि मन आंदोलनों रखने के लिए अपनी योजनाओं को फिर से रणनीति के लिए मार्गदर्शन करते हैं।
var self = $(this); 26 पैगंबर मोहम्मद का जब जन्म भी नहीं हुआ था, तब से अमरनाथ गुफा में हो रही है पूजा-अर्चना! Published: Saturday, July 8, 2017, 6:30 [IST] Subscribe to Oneindia Hindi
}, 3000); ज्यादा पठित 999 8 जून के बाद सक्रिय होगा मानसून, ज्योतिष के अनुसार अच्छी बारिश के संकेत
प्रियंका चोपड़ा ने भंसाली को भी दिया धोखा! छोड़ी ये फिल्म डिअर चारू, इस वर्ष अक्टूबर के बाद job के कुछ chances हैं| Health allow करे तो मंगलवार के व्रत रखो| अस्त ग्रह
सांकेतिक फोटो |तस्वीर साभार: Thinkstock Created By Sora Templates & Blogger Templates | Gooyaabi Templates Amazing Facts of the world
yog hain, is varsh October ke baad chances hain. Pukhraj pahno. Sury ko nity arghy do. $(‘.dropdown’).on(‘hide.bs.dropdown’, function () {
Bhajan Mandli तेनालीराम की कहानियां छुहारे का सेवन करे रोगों को छू Name Neha पूर्व भाद्रपद नक्षत्र यंत्र
Hello sir Dob- 17 -9- 1993 $(“#Password”).val(“”); © 2015 – 2018 Astro Ventures Private Limited. All Rights Reserved.
to kya koi strong combination nhi ban rahe hai kya meri kundali mein govt. job ke Education of biotechnology: astrological aspects
اردوUrdu कुण्डली मिलान 497 Edited By कुर्सी कहीं तीसरे के हाथ न चली जाय… दरअसल अगर कुछ बातों पर ध्यान दिया जाए तो हम स्वयं भी मृत्यु के समय और स्थिति के बारे में काफी कुछ अंदाजा लगा सकते हैं ऐसा ज्योतिषशास्त्र में कहा गया है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार जन्मकुंडली का आठवां घर आयु, जीवन और मृत्यु के संबंध में जानकारी देता है। कुंडली के दूसरे और बारहवें घर से भी जीवन मृत्यु के संबंध में जानकारी मिलती है।
श्रावण मास विशेष ►  March (67) Know Your Lucky Number Shop now घर पर अकेली देख पांच वर्षीय मासूम को बनाया अपनी हवस का शिकार और फिर… 14 मार्च से 13 अप्रैल तक बारहवीं राशि मीन में रहता है।
पितृ दोष के अशुभ फल 01 भगवान सहाय श्रीवास्तव if (d.getElementById(id)) return; आज का राशिफल – 2 months ago शनि बुध,शुक्र,राहु गुरू,केतु मंगल,सूर्य चन्द्रमा
लग्न में बुध या केतु हो, तो पत्नी बीमार रहती है। सातवें भाव में शनि और बुध स्थित हों, तो वैधव्य या विधुर योग बनता है। यदि सातवें भाव में मारक राशि और नवांश में चंद्र हो, तो पत्नी दुष्ट होती है। यदि सूर्य राहु से पीड़ित हो, तो जातक को अन्य व्यक्ति के साथ प्रणय के कारण बदनामी उठानी पड़ती है। सूर्य मंगल से पीड़ित हो, तो वैवाहिक जीवन कष्टमय होता है। यदि शुक्र व मंगल नवांश में स्थान परिवर्तन योग में हों, तो जातक विवाहेतर संबंध बनाता है। जातक के सप्तम भाव में यदि शुक्र, मंगल और चंद्र हों, तो वह अपने जीवनसाथी की स्वीकृति से विवाहेतर संबंध बनाता है जैसे की मेट्रो सिटी में पार्टनर स्वैपिंग आम चलन हो चुका है। मंगल आवेश में वृद्धि करता है व शुक्र सम्मोहक पहलुओं से जोड़ता है। शुक्र रोमांस व सम्मोहक पहलुओं का द्योतक है। यह लैंगिक सौहार्द, अनुरक्ति, विवाह, वंशवृद्धि, शारीरिक सौंदर्य और प्रेम का कारक है। मंगल बल, ऊर्जा, आक्रामकता का द्योतक है। जब शुक्र के साथ मंगल की युति हो, तो विषय वासना की प्रचुरता रहती है। 
हाथ की रेखाओं से जाने अपना भाग्य MOST USED CATEGORIES 4 राशि चक्र के संकेत आपके पक्ष के पास हैं यदि आपको वाकई अच्छा विंगमैन चाहिए
कुंभ राशि कला – Offices : व्यूस : 5798 infidelity जीवन एक राजमार्ग है … यहां सवारी का आनंद कैसे उठाया गया है
►  2017 (574) Dear Ankit, ग्रह स्पष्टि और भाव स्पष्टि से बनता है चलितचक्र!महादशा का सही फल पता चलेगा NARMDESHWAR SHASTRI [379]
फेंगशुई खरीदें कर्क चन्द्र कैंसर स्त्री चर जल नवरात्री में अगर ऐसे करेंगे माँ दुर्गा की स्तुति तो हो जाएगी कोई भी इच्छा पूरी
State News फोन में नजर गड़ाए रखने से खराब हो सकते हैं रिश्ते’
Forgotten account? प्रेग्नेंसी आपको यह भी पसंद आ सकता हैं February 25, 2018 at 7:48 am हनुमान जी महाराज बनकर करते है भक्तों के दुख दूर टाइम ज़ोन एक बार जब आप ग्रहों की पहचान करते हैं और वे किन घरों में बैठते हैं, तो अगला कदम यह निर्धारित करना है कि नौ ग्रहों में से प्रत्येक में क्या संकेत हैं। आपका शनि, बुध, मंगल, शुक्र, बृहस्पति, राहु और केतु कहां अपने चार्ट में बैठते हैं ?
shadi mein deri Jyotish Live यदि किसी व्यक्ति का सौभाग्य अंक उसके अनुकूल नहीं है तो उसके नाम के अंको में घटा जोड़ करके सौभाग्य अंक को परिवर्तित किया जा सकता है जिससे कि सौभाग्य अंक उस व्यक्ति के अनुकूल हो सके। सौभाग्य अंक का सीधा सम्बन्ध मूलांक से होता है। व्यक्ति के जीवन में सबसे अधिक प्रभाव मूलांक का होता है। चूंकि मूलांक स्थिर अंक होता है तो वह व्यक्ति के वास्तविक स्वभाव को दर्शाता है तथा मूलांक का तालमेल ही सौभाग्य अंक से बनाया जाता है।
3.080 23642789 कुंडली में एक के अतीत और भविष्य के बारे में बताता है जन्म के समय ग्रहों का स्थान विभिन्न जीवन की घटनाओं को इंगित करता है। यह एक के प्रकृति, व्यवहार, शारीरिक विशेषताओं, जीवन शैली, शिक्षा, स्वास्थ्य, कैरियर, प्रेम, विवाह, बच्चों आदि के बारे में भी बताता है। यह हमारे जीवन में समस्याओं का समाधान करने में भी मदद करता है। स्वास्थ्य के मुद्दों की तरह, विवाह में विलंब, बच्चे के जन्म, कैरियर की समस्याओं आदि।
तुला शुक्र लिबरा पुरुष चर वायु Reactions:  Read more… 11
लाइफस्टाइल – मनोरंजन2 months ago 4 राहु की त्रिक भाव या त्रिकेश पर दृष्टि हो भी कैंसर रोग की संभावना बढ़ाती है।
जन्म कुंडली क्या है 7th घर – महत्वपूर्ण दूसरों जो नौकरी के दौरान के साथ बातचीत किया जाना चाहिए, भागीदारों और सामान्य में सहयोग. उच्च का मंगल 01
Rajasthan News HTTP Error 400. The request URL is invalid. Continue Reading
Page Not Found $(“.googledownload_div”).hide(); रिलेशनशिपरहन सहनराइट डाइटफिटनेसपैसों की बात पर्यटन
Time-11.05Am 9 स्तूपांक 30 जुलाई 2018 वर्ष 2017 के लिए, कैंसर व्यक्तियों नई दिलचस्प विकल्पों के साथ मिलने के लिए उनके जीवन को आगे बढ़ाने की होगी। तुम तो हिम्मत तो सबसे मुश्किल प्रतियोगिताओं आप के लिए आते हैं और फिर भी आप सफलता के साथ अहानिकर बाहर आ जाएगा। मंगल ग्रह सहायता और ऊर्जा और आक्रामक शक्ति महान पहाड़ों पर चढ़ने के लिए बाहर लाना होगा। अपने निष्क्रिय क्षमता है कि पिछले कुछ समय के लिए निष्क्रिय झूठ बोल रहा सुधार लाना। वहाँ से बाहर सामने बाहर आओ और, आप सभी तरह के कैंसर के लिए आप खोल पीछे हटना नहीं है। यह बाहर की दुनिया को अपनी प्रतिभा और रचनात्मकता को प्रदर्शित करने के लिए एक आदर्श समय है। अधीरता और विलंब से बचने के लिए और कार्रवाई में उतर रही है।
1951 कैंसर एक ऐसा रोग है जिसका नाम सुनते ही अच्छे-अच्छों के पसीने छुटने लगते हैं। वर्तमान समय में कैंसर लाइलाज नहीं है, लेकिन कुछ ही भाग्यशाली लोग इस भयानक रोग से बच पाते हैं। ज्योतिषियों की मानें तो ग्रहों की विशेष युति के कारण ही किसी व्यक्ति को कैंसर जैसा भयानक रोग होता है। जन्म कुंडली देखकर कैंसर के पीछे के वास्तविक कारणों को जाना जा सकता है। ज्योतिषियों का तो यह भी कहना है कि यदि समय रहते प्रतिकूल ग्रहों के मंत्रों एवं अन्य उपाय किए जाएं तो कैंसर जैसे रोग से काफी हद तक बचाव हो सकता है।
var ca = document.cookie.split(‘;’); IPL-2018 में KXIP के केएल राहुल इन दिनों इस हॉट अदाकारा को लेकर सुर्ख़ियों पर
इस लेख के लिए टिप्पणियाँ बंद हो गयी है.. समय पर नहीं शहर की सरकार, देखिए हाल  ज्योतिष एवं वास्तु (13)
विशेष पृष्ठ ऐसे मिटाई राम नाम ने हनुमान जी की भूख Personality Test 16 personalities Types Color Quiz var date = new Date(); 1,5
(11) यदि संभव हो तो केतु के बीजमंत्र  “ॐ स्रां स्रीं स्रौं सः केतवे नमः” का किसी पंडित से 17,000 मंत्रजाप करवाएं।
The “ONEINDIA” word mark and logo are owned by One.in Digitech Media Pvt. Ltd.
मंगल कुंभ स्क्वायर 0° वृश्चिक वृश्चिक इस पोस्ट को शेयर करें ईमेल Members Dear Manoj, Kundli Tv- अगर आपके साथ भी होता है कुछ एेसा तो… व्यूस : 2764 ये 4 राशि चक्र लक्षण हमेशा गंभीरता से जीवन नहीं लेते हैं
Quick Links राशिफल तिथियाँ एवं जानकारी वायु: मिथुन, तुला, कुंभ व्यक्ति के जीवन में उतार-चढाव का कारण सौभाग्य अंक होता है. उदाहरण के लिए मान लो कि हम किसी शहर में जाकर नौकरी/ व्यवसाय करना चाहते हैं, तो हमें उस शहर का शुभांक मालूम करना होगा फिर उस शुभांक को स्वंय के सौभाग्य अंक से तुलना करेंगे. यदि दोनो अंको में बेहतर ताल-मेल है अर्थात दोनो अंक आपस में मित्र ग्रुप के है तो वह शहर आपके अनुकूल होगा, और यदि दोनो अंक एक दूसरे से शत्रुवत व्यवहार रखते हैं तो उस शहर में आपके कार्य की हानि होगी.
डिअर किरण, इस वर्ष नवम्बर के बाद अच्छा समय है, field सही है| Captcha:- + = js.src = “//connect.facebook.net/en_US/all.js#xfbml=1&appId=2101243813444958”;
Zodiac Quotes | Zodiac Daily Zodiac Quotes | Daily Zodiac Zodiac Quotes | Zodiac Sign Test

Legal | Sitemap

Write a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.