Email : support@punjabkesari.in मंगल पर क्या असर डालता है लाल रंग बच्चे का sports में रुझान natural है, अच्छी ट्रेनिंग दीजिये, विदेश तक जा सकता है|
पूर्व में जहां संकेतों को ज्‍योतिषीय गणनाओं से भी अधिक महत्‍व दिया जाता रहा है, वहीं वर्तमान दौर में ज्‍योतिषी संकेतों को दरकिनार कर केवल कुण्‍डली से निकाले जाने वाले फलादेशों पर ही निर्भर होते जा रहे हैं।  ओमेन को समझाने के लिए दक्षिण के प्रसिद्ध ज्‍योतिषी प्रोफेसर के.एस. कृष्‍णामूर्ति (KP Astrology) ने अपनी पुस्‍तक फण्‍डामेंटल प्रिंसीपल ऑफ एस्‍टोलॉजी में एक उदाहरण दिया है। पिछले कई दशकों में ओमेन को समझाने के लिए इसे सबसे शानदार उदाहरण माना गया है। इस उदाहरण से यह भी पता चलता है कि ओमेन को समझने के लिए हमें प्रकृति को समझने की अपनी दृष्टि भी विकसित करनी होगी।
Opticals ka business Kar raha hun acha nahi chal raha kafi loan bhi ho gaya hai Kya karu konsa business karu. Kab Kam thik honge plz help. Pranam guruji
 कर्क-4            सिंह-4                     कन्या-5     मृगशिरा 2- वृष शुक्र ११) यदि बैल बांये सींग से जमीन की खुदाई करता हुआ दिखाई दे तो शुभ माना जाता है, लेकिन अगर दांये सींग से जमीन खोदता हुआ दिखाई दे तो अशुभ माना जाता है।
Sign Up Newer Post Older Post संबंधित: 12 राशि चक्र जो सबसे लंबे समय तक जोड़े बनाते हैं 1/113
Pandit ji m roj. Shanivar ja k puja krungi….. व्यूस : 3850 कांग्रेस The planets News 27+31 द58
Recent Posts Comments RSS 7 हृदय स्फुरण से मनोवांछित सिद्धि प्राप्त होती है।
100% प्रमाणित सेवाएं फलादेश कैसे करें? Hindi News अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें (Hindi News App) Get all latest Horoscope News in Hindi from Politics, Crime, Entertainment, Sports, Technology, Education, Health, Astrology and more News in Hindi
ग्रह बुध का क्लोज-अप चित्रण विशेष नोट: इन सभी प्रकार के स्टोन का उपयोग अपने मन से न करें। किसी जानकार क्रिस्टल हीलर से परामर्श के बाद ही धारण करें। $(“#btnCloseSignUP, #OuterBarModel”).click(function (e) {
June 20, 2018 at 11:34 am June 7, 2018 at 5:17 am पीठ पर तिल: कर्क राशि, चंद्र और मंगल पर शनि, राहु व मंगल इनमें से किसी ग्रह का अशुभ प्रभाव होने पर कैंसर रोग होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। रोग के काल का निर्धारण करने के लिए रोगी की दशा का भी आकंलन किया जाता है। कई बार जन्मकुंडली में रोग होने की संभावनाएं रहती हैं परन्तु शुभ ग्रहों की दशा और अनुकूल ग्रहों की दशा होने पर रोग के प्रभावी होने की संभावनाएं रहती हैं।
function closeCleanUpTopBan() { Advertisement पितृदोष हर अमावस्या और पूर्णिमा पर पितरों को धूप दें। इसके लिए गोबर के कंडे या उपले पर शुद्ध घी और गुड़ से धूप करें।हर रोज सुबह और शाम को पूजा करें। इस दौरान हनुमान चालीसा या अष्टक का पाठ करें। इससे न केवल पितरों को शांति मिलती है बल्कि प्रभावित व्यक्ति के जीवन की बाधाएं भी दूर होती हैं।
केपी पद्धति से कुंडली निर्माण ‘डोरा द एक्सप्लोरर’ में नजर आएंगी मैडलीन मैडेन
देशान्तर: मूल नक्षत्र यंत्र When a planet finds its way into the burning core of the Sun, we find the truest answers that have been buried deep in our authentic Self.
संकल्प शक्ति से बदलें मन के भाव इस तरह २७ नक्षत्रों के २४३ भाग हुए, लेकिन जब इन भागों को राशि चक्र में रखा तो १/५/९ राशियों में राशियों के ३० अंश पूरे होने के कारण सूर्य नक्षत्र के राहू उप- नक्षत्र के दो भाग किये गए और शेष भाग २-५-८ राशियों में रख दिया। इसी प्रकार ३-७-११ राशियों में गुरु नक्षत्र के, चन्द्र उप नक्षत्र के भी २-२ भाग किये और ३-७-११ राशियों के ३० अंश पूरे होने के कारण चन्द्र उप नक्षत्र के शेष भाग को ४-८ -१२ राशियों में समायोजित कर दिया। अब राशि चक्र में उप नक्षत्रों का विभाजन २४३ से बढ़कर २४९ हो गया।  यह २४९ अंकों की राशि विभाजन की सारणी कृष्णमूर्ति पद्वति में फलित कथन में विशेष रूप से उपयोगी और महत्वपूर्ण है। यही इसका आधार भी है। बिना उप स्वामी के किसी घटना के पिन प्वाइंट घटित होने के बारे में जाना भी नहीं जा सकता।
नन्ही दुनिया Shravana Subscribe Now! Hindi Offbeat Know Your Signs – Pisces मूलांक 3 :- 3, 12 और 21 तारीख को जन्में लोगों के लिए लकी टिन है गोल्ड। न्यूमरॉलजी के हिसाब से मार्च और दिसंबर महीने भी नंबर 3 को रिप्रजेंट करते हैं। इसलिए इन महीनों में जन्मे लोगों के लिए भी टिन लकी है।
degreeMinuteSecond.push(((decimalDegree – degreeMinuteSecond[0]) * 60) | 0); All Days 12:00pm-08:00pm
इस्लाम धर्म सोमवार, 6 अगस्त 2018 Live Audio Hollywood इसीलिए अशुभ प्रभाव देता है केतु लॉग इन करें
आज का राशिफल – 2 months ago जानिए श्रावण मास में ‘शिवनाम’ का महत्व UttaraBhadrapada ईशान और जाह्नवी की ‘धड़क’, क्या दर्शकों के दिलों की बढ़ाएगी धड़कन!
Place- Raisinghnagar, Rajasthan जन्म तारीख आकस्मिक Payment options अंक ज्योतिष और हस्तरेखा विज्ञान दोनों एक सिक्के के दो पहलू हैं। जिस प्रकार आत्मा शरीर के बिना अधूरी है, उसी प्रकार अंक ज्योतिष हस्तरेखा विज्ञान के बिना अधूरा है तथा हस्त रेखा विज्ञान, अंक ज्योतिष के बिना अधूरा है।
Astrology, Clarity of Mind, Divine Insights, jyotish, Jyotish Shastra, MahaJyotish Astro Vastu Course, mahavastu, Planetary Positions, Stars, Yoga Secrets, Yogi, खुशदीप बंसल, ज्योतिष, ज्योतिष कोर्स, ज्योतिष शास्त्र, महाज्योतिष, योग रहस्य
102,458 Views कन्या का नामांक 2 होने पर किसी कारण से दोनों के बीच तनाव की स्थिति बनी रहती है.
जन्मदिन स्पेशल : पद्मश्री मनोज कुमार के जीवन से जुड़ी कुछ दिलच… 45
अगर कोई जातक अपना रास्‍ता ही शमशान की ओर से होते हुए तय कर ले तो, यह उसके लिए रुटीन बन जाएगा, इससे उसे लाभ होना तय नहीं रहेगा।
July 19, 2018 मेष शिक्षा और ज्ञान Mobil कुछ फलित शास्त्रों एवं संहिता ग्रंथों में अनेकों निमित्तों का वर्णन पूर्ण विस्तार से किया गया है। निमित्त उन लक्षणों को कहते हैं जिन्हें देख कर अतीत में घटित हुई और भविष्य में घटित होने वाली घटनाओं का निरूपण किया जाता है। इन्हीं के अंतर्गत शारीरिक अंगों के स्फुरण से आगामी समय में प्राप्त होने वाले शुभाशुभ फल का वर्णन संक्षेप में किया गया है-
Zodiac Astrology Horoscope Zodiac Dates What Is Zodiac

Legal | Sitemap

Write a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.